Main Menu

छत्तीसगढ़ में चुनावी सर्वे ने बढ़ाई भाजपा की चिंता, सत्ता में वापसी के लिए संघ खोजेगा युवा चेहरे

chhattisgarh-indiavotekar
Notice: Undefined index: margin_above in /home/ivkindvotekar/public_html/wp-content/plugins/ultimate-social-media-icons/libs/controllers/sfsiocns_OnPosts.php on line 440

Notice: Undefined index: margin_below in /home/ivkindvotekar/public_html/wp-content/plugins/ultimate-social-media-icons/libs/controllers/sfsiocns_OnPosts.php on line 441

गोपनीय सर्वे में भाजपा की हालत खस्ता मिलने के बाद अब संघ ने नया फॉर्मूला तैयार किया है।

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के गोपनीय सर्वे में भाजपा की हालत खस्ता मिलने के बाद अब संघ ने नया फॉर्मूला तैयार किया है। भाजपा को प्रदेश में चौथी बार सत्ता दिलाने के लिए संघ ने प्रदेश की 35 से 40 विधानसभा सीटों पर नए चेहरे की खोज शुरू कर दी है।

इसको लेकर संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने रायपुर में एक बैठक ली। इस गोपनीय बैठक में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के वर्तमान और पूर्व पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया। खास बात यह है कि इसमें महासमुंद से निर्दलीय विधायक विमल चोपड़ा भी शामिल हुए। दरअसल, विमल चोपड़ा विद्यार्थी परिषद से लंबे समय तक जुड़े रहे हैं। वर्ष 2013 के विधानसभा में भाजपा से टिकट नहीं मिलने के बाद चोपड़ा ने निर्दलीय चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की।

सूत्रों के अनुसार होसबोले ने विद्यार्थी परिषद के पूर्व वरिष्ठ पदाधिकारियों को टिकट वितरण का जो फॉर्मूला बताया, उसमें 35—40 फीसद चेहरे बदलने से लेकर जीतने वाले उम्मीदवारों पर दांव लगाना है। संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों की मानें तो इस बैठक में उन विधानसभा सीटों पर नए चेहरे खोजने की रणनीति बनी, जहां संघ के सर्वे में भाजपा की हार के संकेत मिल रहे हैं।

इसमें से अधिकांश वर्तमान विधायकों से जनता नाराज है। कई विधायक तो ऐसे पाए गए, जो आम आदमी की समस्या निपटाना तो दूर, अपने विधानसभा क्षेत्र में ही सक्रिय नहीं हैं। संघ के सर्वे में अब तक सिर्फ 37 सीट पर ही भाजपा को जीत मिलती नजर आ रही है। यही कारण है कि भाजपा को सत्ता की चौथी पारी दिलाने के लिए संघ ने युवा चेहरों की तलाश शुरू कर दी है।

प्रोफेशनल उम्मीदवारों को उतारने की तैयारी

संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने बताया कि प्रदेश की कई विधानसभा सीट पर कारोबारी, इंजीनियर, डॉक्टर, कलाकार और समाज के अलग-अलग क्षेत्र में काम करने वाले प्रतिभाशाली और सक्रिय युवा को टिकट दिया जाएगा। इसको लेकर देशभर में भाजपा और भारतीय जनता युवा मोर्चा ने प्रोफेशनल युवाओं को जोड़ने का काम भी शुरू कर दिया है।






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *