Main Menu

अमित शाह ने कहा- वह कोलकाता आएंगे प. बंगाल सरकार चाहे तो उन्हें गिरफ्तार कर सकती है

अमित शाह

एनआरसी पर जारी विवाद के बीच अमित शाह ने कहा कि वह निश्चित तौर पर कोलकाता आएंगे प. बंगाल की सरकार चाहे तो उन्हें गिरफ्तार कर सकती है

कोलकाता। असम में नेशनल रजिस्टर आफ सिटिजन्स (एनआरसी) पर जारी राजनीतिक विवाद के बीच भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि वह निश्चित तौर पर कोलकाता आएंगे और पश्चिम बंगाल की सरकार चाहे तो उन्हें गिरफ्तार कर सकती है।

गौर हो कि ममता बनर्जी एनआरसी का सबसे ज्यादा विरोध कर रही हैं। इसी बीच अमित शाह ने कोलकाता में अपनी सभा को लेकर ममता बनर्जी को चुनौती दे डाली। शाह ने ये बातें तब कही जब उनकी सभा को अनुमति नहीं मिली थी। उन्होंने इस मुद्दे पर दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा व नेता मुकुल राय को लेकर बैठक की।

पार्टी सूत्रों के अनुसार शाह ने इस बैठक में बंगाल के लिए पार्टी की रणनीति पर चर्चा की। बैठक के बाद उन्होंने कहा कि वे हर हाल में कोलकाता में सभा करेंगे। हालांकि इसी दिन बाद में कोलकाता पुलिस ने मेयो रोड पर उनकी सभा आयोजित करने की अनुमति दे दी।

अमित शाह के कोलकाता कार्यक्रम पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यक्रम पहले से तय था। अमित शाह कोलकाता में ममता बनर्जी पर निशाना नहीं साधेंगे बल्कि राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार पर हमला बोलेंगे और भाजपा कार्यकर्ताओं को जागरूक करेंगे।

कोलकाता में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की सभा को लेकर संशय खत्म हो गया। पुलिस ने अतंत: मेयो रोड में उनकी सभा के आयोजन की अनुमति दी। कोलकाता पुलिस की ओर से बुधवार को यह अनुमति दी गई। गौर हो कि पुलिस की ओर से एक दिन पहले ही बताया गया था कि 11 अगस्त की सभा के लिए भाजपा की ओर से उसके पास कोई लिखित आवेदन नहीं किया गया था। उसके बाद ही भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष देवजीत सरकार ने पुलिस मुख्यालय में सभा की अनुमति के लिए लिखित आवेदन किया।

उन्होंने 11 अगस्त को सभा आयोजित करने के लिए महानगर के वैकल्पिक स्थान के रूप में विक्टोरिया हाउस, डोरिना क्रासिंग, श्यामबाजार, मेट्रो चैनल एवं मेयो रोड में से किसी एक जगह पर अनुमति मांगी थी। देवजीत ने संयुक्त आयुक्त से मिलकर आवेदन किया। गौर हो कि कोलकाता पुलिस ने रानी रासमणि एवेन्यू में 11 अगस्त को किसी अन्य संस्था की सभा को अनुमति दी है।

भाजपा का कहना था कि उसकी ओर से वहां सभा की अनुमति मांगी गई थी, लेकिन पुलिस ने कहा था कि इसके लिए उसके पास कोई लिखित आवेदन नहीं किया गया था। ऐसे में भाजयुमो ने पुलिस से वैकल्पिक स्थान सुनिश्चित करने का आवेदन किया। भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष देवजीत सरकार ने बताया कि कोलकाता पुलिस ने 11 अगस्त को मेयो रोड में उनकी सभा की अनुमति दी है। उस दिन दोपहर 2 बजे से सभा शुरू होगी। भाजपा के युवा मोर्चा की ओर से पहले 3 अगस्त को सभा आयोजित होने वाली थी जो बाद में रद होकर 11 अगस्त को तय की गई।

इस सभा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एवं भाजयुमो की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन सहित अन्य कई राष्ट्रीय पदाधिकारी शामिल होंगे। सभा को सफल बनाने के लिए भाजपा जोर-शोर से प्रचार में जुटी हुई है। शाह की सभा के प्रचार में पार्टी के जिला पदाधिकारियों को जुलूस एवं सभाएं आयोजित करने का निर्देश दिया गया है।

अनुमति मिलने में हो रहे विलंब से अमित शाह की सभा का आयोजन संशय में था। पुलिस की अनुमति मिलने से पहले बुधवार को अमित शाह ने दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा व नेता मुकुल राय को लेकर बैठक की। शाह ने अनुमति नहीं मिलने पर भी बंगाल में सभा करने की बता कही थी। हालांकि पुलिस ने बाद में उनकी सभा को अनुमति दे दी। इस पर राज्य के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि सभा करने पर कोई रोक नहीं है। कोई भी सभा कर सकता है।

Please follow and like us:





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *